[ad_1]

गुड़गांव40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
भोजन में कीड़े निकलने पर नारेबाजी करतीं कार्यकर्ता। - Dainik Bhaskar

भोजन में कीड़े निकलने पर नारेबाजी करतीं कार्यकर्ता।

  • गुरुवार से घर से पका हुआ भोजन लाएंगी सभी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता
  • नगीना आईटीआई में चल रही है प्ले पांच दिवसीय प्ले स्कूल ट्रेनिंग

फिरोजपुर में झिरका के प्ले स्कूल के खाने में की़ड़े निकले हैं।आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दी जा रही थी जिसमें खाना परोसने के दौरान ये घटना सामने आई है। जिसके बाद आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने खाना परोसने वाले ठेकेदार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। यूनियन का कहना है कि गुरुवार से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता यह भोजन नहीं खाएंगी बल्कि अपने घर से खाना लाएंगी। इस घटना की जानकारी बाल विकास विभाग जिला परियोजना अधिकारी को दे दी गई है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग नूंह बुधवार को ITI नगीना में तीसरे दिन आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ट्रेनिंग दे रहा था।उसी दौरान दोपहर को जो भोजन परोसा गया, उसमें कीड़े निकले। हालांकि कुछ लोगों ने भोजन खा लिया था और कुछ भोजन खा रही थीं। सभी ने खाना छोड़ दिया र धरने पर बैठ गई। कई घंटों तक धरना प्रदर्शन और नारेबाजी की। बाद में नगीना SDOP कार्यालय की सुपरवाइजर रेखा रानी के कहने पर वो मान गई। गनबाड़ी यूनियन की खंड प्रधान जमशीदा ने बताया कि तीन दिनों से खंड की सभी कार्यकर्ताओं को पांच दिवसीय प्ले स्कूल प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दुर्भाग्य है कि जो भोजन आज हमें खाने को पेकिंग में दिया गया उसमें लंबे लंबे कीड़े निकले हैं जिन्हें देखकर कई वर्करों ने उल्टियां की। कई की हालत खराब हुई। इसलिए यूनियन ने नारेबाजी की और प्रदर्शन किया है ताकि संबंधित एजेंसी सुधार करें। यूनियन की कोषाध्यक्ष कविता देवी ने बताया कि कल से कोई भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ठेकेदार का बना भोजन नहीं खाएंगी वे अपने घर से भोजन लाकर खाएंगी। यूनियन के सचिव शहीदी और रुबीना ने बताया कि SDOP और उच्चाधिकारियों को बता दिया गया है। ऐसा भोजन जानवर भी नहीं खाते हम तो इंसान हैं। नगीना की सुपरवाइजर रेखा रानी ने बताया कि इस बारे में उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया गया। भोजन में कीड़े देखे गए हैं और इसकी शिकायत संबंधित एजेंसी को दी जा चुकी है। आगे सही है लापरवाही नहीं होगी।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!